19 March

संगीत और गर्भावस्था

आपने अभिमन्यु अपने माँ और चाचा की बातो को गर्भाशय में रहते ही सुनने की कहानी सुनी होगी जिससे अभिमन्यु चक्रव्यूह को भेद करने की कला सिख ली थी। बच्चे की कान बहुत जल्दी दिखाई देते हैं और एक अल्ट्रासाउंड द्वारा 10 सप्ताह में देखा जा सकता है। और ऐसा कहा जाता है कि बच्चे 20 से 22 सप्ताह के समय ध्वनि के कुछ आवृत्तियों को सुनने में सक्षम हो सकते है।

 

यह माना जाता है की गर्भावस्था के दौरान संगीत सुनना गर्भवती महिलाओं में तनाव हार्मोन को कम कर सकती है। अन्य में तनाव हार्मोन की कमी अप्रत्यक्ष रूप से गर्भाशय के बच्चे के कल्याण में मदद कर सकती है। बच्चे प्रसन्नकालीन अवधि में और उसकी प्रसवपूर्व अवधि में अपनी मां की आवाज़ सुनता है। इस प्रकार आवाज़ परिचित और बच्चे के लिए एक सुरक्षित भावना के साथ जुड़ा हुआ है। मां की आवाज विकसित मस्तिष्क पर एक प्रभाव का प्रमाण साबित हुई है। जन्म के समय, नवजात शिशु संगीत लय पर प्रतिक्रिया करते हैं और खुद को अपने आस-पास की दुनिया के लिए उन्मुख करना शुरू करते हैं। यह भी कहा जाता है कि यह रिश्ता अनिवार्य रूप से 'संगीत' है क्योंकि बच्चों को अभी भी शब्दों के अर्थ को समझ में नहीं आता है। जन्मजात काल के माध्यम से मां को सुनकर भ्रूण अपने संगीत भाषण और सुविधाओं को संग्रहीत करता है। और हां, बच्चे के जन्म के ठीक बाद, कई संस्कृतियों में, सदियों से लोरी को शांत करने के लिए गाया गया है। लोरी एक रोते बच्चे को शांत करने का एक शानदार तरीका हो सकता है।

 

माँ और बच्चे पर संगीत का प्रभाव

संगीत उच्च तनाव के स्तर को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है कि कई गर्भवती महिलाओं ने अपनी गर्भावस्था के दौरान इसे अनुभव किया है। College of Nursing at Kaohsiung Medical University, Taiwan में शोधकर्ताओं द्वारा आयोजित 236 गर्भवती महिलाओं का एक अध्ययन, से पता चला कि प्रतिभागियों ने प्रति दिन 30 मिनट के लिए संगीत सुनी, जो प्रतिभागियों के साथ तुलना में दो हफ्तों के लिए काफी तनाव, चिंता और अवसाद को कम करते हैं। यह अध्ययन, जो कि क्लिनिकल नर्सिंग के जर्नल (Journal of Clinical Nursing) में प्रकाशित हुआ था, उन प्रतिभागियों पर आयोजित किया गया था, जो सभी या तो उनके दूसरे या तीसरे तिमाही में थे। प्रतिभागियों का आधा हिस्सा को संगीत CD दिया गया और उन्हें प्रति दिन आधे घंटे के लिए सुनने के लिए कहा गया। संगीत की पसंद को प्रतिभागियों के पास छोड़ दिया गया था और उनमें से ज्यादातर ने प्रकृति आवाज़ या लोरी को चुना। अन्य आधे को किसी भी CD नहीं दी गई थी। दोनों समूहों को समान दिनचर्या जन्मपूर्व देखभाल प्राप्त की गयी। अनुसंधान ने दिखाया कि संगीत समूह में महिलाओं को तनाव, चिंता और अवसाद के स्तर में एक महत्वपूर्ण गिरावट आई, जबकि नियंत्रण समूह में उन लोगों के तनाव में मामूली गिरावट आई थी।

 

कई गर्भवती माताओं के लिए गर्भावस्था एक अनूठी और तनावपूर्ण अवधि है और वे लंबे समय की अवधि के कारण चिंता और अवसाद से ग्रस्त हैं। संगीत अपने माता के बच्चे के साथ बंधन के लिए एक शानदार तरीका प्रदान कर सकता है।

 

जबकि दोनों संगीत और गायन का उपयोग बच्चे के साथ बंधन को मजबूत करने के लिए किया जा सकता है, महिलाओं को अपने बच्चों के लिए गाना जरूरी है। ग़ैर बच्चे के लिए गाना बेहद फायदेमंद है क्योंकि गायन की आवाज़ बोलने की तुलना के आवृत्ति से ज्यादा है। एक मां की आवाज़ किसी अन्य बाहरी आवाज की तुलना में भ्रूण द्वारा बच्चे को ज्यादा सुनाई देती है।

 

संगीत सुनना लाभकारी और बच्चे के लिए सुखदायक हो सकता है। बेशक, यह संगीत के प्रकार पर निर्भर करता है। आप मधुर या मेलोडियस गाने सुने न की रैप या हार्डरॉक। हमेशा ध्वनि को नीचे रखे। अपनी पसंद को तब तक सुनो जब तक कि आपको अच्छा और खुश महसूस हो - यकीन कीजिये आपके बच्चे भी इसका आनंद ले रहा होता है।

 

Reference

http://onlinelibrary.wiley.com/store/10.1046/j.1469-0705.2002.00844.x/asset/904_ftp.pdf?v=1&t=jbos0ljy&s=59d008d48e4b4720824db9233089acf01b37e9c9

 

https://www.webmd.com/baby/news/20081008/music-reduces-pregnancy-stress

Last modified on Friday, 03 August 2018 10:35
Venkatesh Rathod

Venkat handles content management for MedHealthTV.

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Ticket

Support info@medhealthtv.com

Contact Us Form

Contact Us
security image
Live Chat

Live ChatInstant Reply